Ae Hamar Sona Murti Bhiri Aawa Lyrics Pramod Premi Yadav

0

Ae Hamar Sona Murti Bhiri Aawa Lyrics Pramod Premi Yadav. Ae Hamr Sonawa Murti Bhiri Aawa Ho Puaa Buaa Bhejale Biya Maiya Ke Chadhaw Ho New Bhojpuri Navratri Song By Pramod Premi Yadav & Shilpi Raj. Lyrics Written By Krishna Bedardi While Music By Arya Sharma.

Ae Hamar Sona Murti Bhiri Aawa Lyrics
नवमी नवरात्र के तs मेला में हो
का करे अईला अकेला में हो

नवमी नवरात्र के तs मेला में हो
का करे अईला अकेला में हो
कहाँ बाड़s बताव हो

करतानी फोनवा ऐ हमार सोनवा
मूर्ति भीरी आव हो
पुआ बुआ भेजले बिया
मईया के चढ़ाव हो
पुआ बुआ भेजले बिया
मईया के चढ़ाव हो

एहो हमरो तs चुनरी ओढ़ावे के बा
मईया जी के भारा चढ़ावे के बा
सीधे सीधे चल आव भेजनी लोकेशन
भईल पंडाल में बा पूरा डेकोरेशन

हो तले पान फूल मंगाव हो
करतानी फोनवा ऐ हमार सोनवा
मूर्ति भीरी आव हो
पुआ बुआ भेजले बिया
मईया के चढ़ाव हो
पुआ बुआ भेजले बिया
मईया के चढ़ाव हो

एहो आवे से पहिले बतईला ना
कृष्णा बेदर्दी प्रमोद के लईलs ना
इ बात धनि सीक्रेट रखिह
पूजा करत में देख रेख रखिह

जनि जिया डरावs हो
करतानी फोनवा ऐ हमार सोनवा
मूर्ति भीरी आव हो
पुआ बुआ भेजले बाड़ी
मईया के चढ़ाव हो
पुआ बुआ भेजले बिया
मईया के चढ़ाव हो

नवमी नवरात्र के तs मेला में हो
का करे अईला अकेला में हो
कहाँ बाड़s बताव हो

करतानी फोनवा ऐ हमार सोनवा
मूर्ति भीरी आव हो
पुआ बुआ भेजले बाड़ी
मईया के चढ़ाव हो
पुआ बुआ भेजले बिया
मईया के चढ़ाव हो

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here