Boka Humaar Lyrics Pawan Singh

Boka Humaar Lyrics Pawan Singh. Garam Bhail Biya Bakari Hamar Bola Kaha Bate Boka Tohar Holi Old Song By Pawan Singh & Palak Muchhal. Lyrics Written By Vinay Bihar (MLA) & Music Directed By Ajit Singh & Rajesh Gupta Of All Songs Of Holi Album “Le Aileen Rangwa Gulaal”.

Boka Humaar Lyrics Pawan Singh
गरम भईल बिया बकरी हमार
हाँ बकरी हमार
बोलs कहाँ बडुए बोका तोहार

गरम भईल बिया बकरी हमार
हाँ बकरी हमार
बोलs कहाँ बडुए बोका तोहार
हमरा बोका के गोरी खड़ियावे के परी
नींद में बाटे सुतल तs जगावे के परी
दुगो पाउच माँगा के पियावे के पड़ी

रंग होली के चढ़ जाई पीयते खुमार
हाँ पीयते खुमार
बम बम करे लागी बोका हमार
गरम भईल बिया बकरी हमार
हाँ बकरी हमार
बोलs कहाँ बडुए बोका तोहार

ई अईसे बोलेले करेजवा सारे ले
करैली देखला के फिफिहिया ढारे ले
जवानी चढ़ल बा चढ़ल बा फाल्गुन हो
देखा के हरियरी नजरिया मारे ले

खोल दs खूंटा से आपन तू बोका
आपन तू बोका आपन तू बोका
हमरा बकरिया के मत दिहs धोखा
मत दिहs धोखा मत दिहs धोखा

खुल जाई बोका तs कs दीs जुलुम
हो जाई बकरी के तोहरा बोखार
झेलब ना कवनो बहाना तोहार
बहाना तोहार
बोलs कहाँ बडुए बोका तोहार

गरम भईल बिया बकरी हमार
हाँ बकरी हमार
बोलs कहाँ बडुए बोका तोहार

जिला जवार में इ हल्ला उठा देब
हल्ला उठा देब हल्ला उठा देब
बोका हs मउगा इ सबके बता देब
सबके बता देब सबके बता देब

बोका बेलज नाही तनिको बा लाज
नशा में क दी दशा तोहार
मत करs एतना तू चिंता हमार
चिंता हमार
बोलs कहाँ बडुए बोका तोहार

गरम भईल बिया बकरी हमार
हाँ बकरी हमार
बोलs कहाँ बडुए बोका तोहार

हो हमरा बोका के गोरी खड़ियावे के परी
नींद में बाटे सुतल तs जगावे के परी
दुगो पाउच माँगा के पियावे के पड़ी

रंग होली के चढ़ जाई पीयते खुमार
हाँ पीयते खुमार
बम बम करे लागी बोका हमार
गरम भईल बिया बकरी हमार
हाँ बकरी हमार
बोलs कहाँ बडुए बोका तोहार

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *