जीवन प्रवाह है प्रेरक कहानी (अवधेशानंद गिरी)

जीवन प्रवाह है प्रेरक कहानी अवधेशानंद गिरी मानव जीवन तीन धरातलों पर जिया जा सकता है – पाशविक, मानवीय, एवम् दैवीय| पाशविक धरातल पर तो हम सभी जीते हैं, पर हममें से कुछ ऐसे भी है जो मानवीय धरातल पर जीने का प्रयास करते हैं| अर्थात् जीवन में कुछ कर गुज़रना चाहते हैं| ऐसे व्यक्ति किसी …

जीवन प्रवाह है प्रेरक कहानी (अवधेशानंद गिरी) Read More »