Hari Ji Datuvan Ture Gaile Lyrics Pramod Premi Yadav

0

Hari Ji Datuvan Ture Gaile Lyrics Pramod Premi Yadav. Ki Hari Hari Datuan Ture Gaila Kawna Bagiya Ae HAri New Bhojpuri Navratri Song By Pramod Premi Yadav. Lyrics written By Krishna Bedardi While Music By Priyanshu Singh.

Hari Ji Datuvan Ture Gaile Lyrics 
जई रोपवलs नवमी भुखवलs
आसरा धराई पिया हमें बईठवलs

जई रोपवलs नवमी भुखवलs
आसरा धराई पिया हमें बईठवलs
कलशा के जरी
की हरी हरी दतुअन तुरे गईलs
कवना बगिया ऐ हरी
की हरी हरी दतुअन तुरे गईलs
कवना बगिया ऐ हरी

नवरात्र में पातर हम भईल बानी
कबे से कहाँ रऊआ गईल बानी
नवरात्र में पातर हम भईल बानी
कबे से कहाँ रऊआ गईल बानी
आईल बाड़ी माई होता सेवकाई
सांझे भोरे धुप काठी दियना जराई
लिहे दुःख हरीs

की हरी हरी दतुअन तुरे गईलs
कवना बगिया ऐ हरी
की हरी हरी दतुअन तुरे गईलs
कवना बगिया ऐ हरी

कृष्णा बेदर्दी काहे देरी कईल
ताकतानी रहिया अभी ले ना अईल
कृष्णा बेदर्दी काहे देरी कईल
ताकतानी रहिया अभी ले ना अईल
प्रमोद प्रेमी अखिलेश नादान के
प्रियांशु लिया दिहे पतई नु पान के
मईया प चढ़ी

की हरी हरी दतुअन तुरे गईलs
कवना बगिया ऐ हरी
की हरी हरी दतुअन तुरे गईलs
कवना बगिया ऐ हरी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here