Ka Likhal Ba Lyrics Gunjan Singh

0

Ka Likhal Ba Lyrics Gunjan Singh. Aetvar Likhal Ba Ho Somar Likhal Ba Tohra Bahini Ke Solah Go Bhatar Likhal Ba Bhojpuri Vivah Lokgeet By Gunjan Singh & Antra Singh Priyanka. Lyrics Written By Hare Ram Mishra While Music Composition By Shyam Sundar.

Ka Likhal Ba Lyrics
का लिखल बाs
का लिखल बाs

सखी घेरs दुआरी
पूछी जा पारा पारी
अईले चोन्हरा जीजा
दिही जा इनके गारी

सखी घेरs दुआरी
पूछी जा पारा पारी
अईले चोन्हरा जीजा
दिही जा इनके गारी

तनी ताक लs दुअरिया
पs का लिखल बा
तनी ताक लs दुअरिया
पs का लिखल बा

एतवार लिखल बा हो
सोमार लिखल बा
तोहरा बहिनी के सोलह गो भतार लिखल बा

एतवार लिखल बा हो
सोमार लिखल बा
तोहरा बहिनी के सोलह गो भतार लिखल बा

हटे भोजपुरियन के रीति आ रिवाज
कहे ऐ जीजा तोहरा लागता लाज
दs हई हाथ के हरी हरी चूड़िया
साचो लाग तारु जहर के पुडिया

तनी ताक लs दुअरिया
पs का लिखल बा
तनी ताक लs दुअरिया
पs का लिखल बा

एतवार लिखल बा हो
सोमार लिखल बा
तोहरा बहिनी के सोलह गो भतार लिखल बा

एतवार लिखल बा हो
सोमार लिखल बा
तोहरा बहिनी के सोलह गो भतार लिखल बा

दोसरा के चीज पs ना लाव जीजा ढीठ
देह सहलाव जनि बोली बोल मीठ
जीजा के साली में हक आधा होला हो
गुंजन के आगे जनि बनs भोला हो

हरे राम पढ़ीलs नजरिया से
का लिखल बा
तनी ताक लs दुअरिया
पs का लिखल बा

एतवार लिखल बा हो
सोमार लिखल बा
तोहरा बहिनी के सोलह गो भतार लिखल बा

एतवार लिखल बा हो
सोमार लिखल बा
तोहरा बहिनी के सोलह गो भतार लिखल बा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here