Kaha Badi Dhaniya Hamar Lyrics Pawan Singh

Kaha Badi Dhaniya Hamar Lyrics Pawan Singh. Kahan badi dhaniya hamar Is a romantic song from Bhojpuri movie Pyar Mohabbat Zindabad by Pawan Singh Ft. Pakhi Hegde.

Kaha Badi Dhaniya Hamar Lyrics Pawan Singh
गली-गली घुमेला हो मन के भंवरवा
मिले नाही इचीको करार
गली-गली घुमेला हो मन के भंवरवा
मिले नाही इचीको करार

पुछिले तोहरा से पूरब बयरिया
कहाँ बाड़ी धनिया हमार
पुछिले तोहरा से पूरब बयरिया
कहाँ बाड़ी धनिया हमार

चाहे घर छुटी चाहे छुटी
परिवारवा हो छुटी परिवारवा हो
टूटी ना पिरितिया के डोर न हो राम
टूटी ना पिरितिया के डोर न हो राम

प्यारी के सुरतिया नाही देखि
जब नयनवा हो देखि जब नयनवा हो
लेहब दुनो नैना आपन फोर नु हो राम
लेहब दुनो नैना आपन फोर नु हो राम

रनिये के नावे बावे हमरी उमरिया
जबसे भईल बा नैना चार
रनिये के नावे बावे हमरी उमरिया
जबसे भईल बा नैना चार

पुछिले तोहरा से पूरब बयरिया
कहाँ बाड़ी धनिया हमार
पुछिले तोहरा से पूरब बयरिया
कहाँ बाड़ी धनिया हमार

दिलवा के दुखवा जाके
केकरा से बताई हम हो केकरा से बताई हो
प्यारी बिन बाची ना परान नु हो राम
प्यारी बिन बाची ना परान नु हो राम

समझत ना बाटे दिलवा
कईसे समझाई हो कईसे समझाई हो
रूपवा से हटत नईखे ध्यान नु हो राम
रूपवा से हटत नईखे ध्यान नु हो राम

मन करे मर जाई खाई के जहरिया
सुन लागे उनका बिन संसार
मन करे मर जाई खाई के जहरिया
सुन लागे उनका बिन संसार

पुछिले तोहरा से पूरब बयरिया
कहाँ बाड़ी धनिया हमार
पुछिले तोहरा से पूरब बयरिया
कहाँ बाड़ी धनिया हमार

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *