Kamar Ke Dawai Chalta Lyrics Pramod Premi Yadav

0

Kamar Ke Dawai Chalta Lyrics Pramod Premi Yadav. Rate Pike Aile Saiya Hamar Bai Me Kamar Ke Dawai CHalta Hamra Raja Ke Is Bhojpuri Hit Song By Pramod Premi Yadav. Lyrics Written By Krishna Bedardi While Music By Shankar Singh

Kamar Ke Dawai Chalta Lyrics
राते अईले पीके सईया हमार बाई में
कईले खेल हेल गईले गहिरा खाई में

राते अईले पीके सईया हमार बाई में
कईले खेल हेल गईले गहिरा खाई में
कमर के दवाई चलता हो
डांड के दवाई चलता, हमरा रजऊ के
कमर के दवाई चलता

गब देनी घुस गउअन
मिलुए ना आहट
सब दिन से ज्यादा
राते कईले रहूअन चाहत

गब देनी घुस गउअन
मिलुए ना आहट
सब दिन से ज्यादा
राते कईले रहूअन चाहत

हम त केतना देर रहुई दुहाई में
उ त ले लिहले रोग अन्याय में
कमर के दवाई चलता हो
डांड के दवाई चलता, हमरा रजऊ के
कमर के दवाई चलता

कृष्णा बेदर्दी समझाई प्रमोद के
पानी पानी कई दिहले अंगूरी से खोद के
कृष्णा बेदर्दी समझाई प्रमोद के
पानी पानी कई दिहले अंगूरी से खोद के

शंकर अप्पू आ पप्पू तीनो भाई में
लफड़ा भईल बावे खेत के जोताई में
कमर के दवाई चलता हो
डांड के दवाई चलता, हमरा रजऊ के
कमर के दवाई चलता

राते अईले पीके सईया हमार बाई में
कईले खेल हेल गईले गहिरा खाई में
कमर के दवाई चलता हो
डांड के दवाई चलता, हमरा रजऊ के
कमर के दवाई चलता

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here