Radha Viyog Lyrics Pramod Premi Yadav

0

Radha Viyog Lyrics Pramod Premi Yadav. Mathura Naikha Kanha Ta Shringaar Ka Kari Bhojpuri Sad Song Pramod Premi Yadav. Lyrics Written By Krishna Bedardi & Music By Arya Sharma.

Radha Viyog Lyrics Pramod Premi Yadav
चूड़ी लहठी बिंदिया बाली हार का करी
डहकता दिल तs दीदार का करी
मथुरा नईख कान्हा तs श्रृंगार का करी
मथुरा नईख कान्हा तs श्रृंगार का करी

प्रेमवा के भूख बा आहार का करी
बरसता नैना तs सुखार का करी
मथुरा नईख कान्हा तs श्रृंगार का करी
मथुरा नईख कान्हा तs श्रृंगार का करी

दुनिया जहान हऊअ तुही जिनगिया
मिटल बा सुख आवे ना निंदिया
दुनिया जहान हऊअ तुही जिनगिया
मिटल बा सुख आवे ना निंदिया
मिटल बा सुख आवे ना निंदिया

छवले बा पतझड़ तs बहार का करी
तहरा चिंता नईखे तs विचार का करी
मथुरा नईख कान्हा तs श्रृंगार का करी
आहे मथुरा नईख कान्हा तs श्रृंगार का करी

जा ऐ बेदर्दी दिल दुखावे लs रोजे
तरसता नैना हरदम तहरे के खोजे
जा ऐ बेदर्दी दिल दुखावे लs रोजे
तरसता नैना हरदम तहरे के खोजे
तरसता नैना हरदम तहरे के खोजे

प्रेमी जब नईखs तs प्यार का करी
सुनs नईख तेज के गोहार का करी
मथुरा नईख कान्हा तs श्रृंगार का करी
मथुरा नईख कान्हा तs श्रृंगार का करी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here