Rajsthani Ghaghra Lyrics Pawan Singh

0

Rajsthani Ghaghra Lyrics Pawan Singh. Hamhu Lele Aaib Rajsthani Ghaghra Hilaiha Penh Ke Dilli Agra Is Bhojpuri Romantic Song By Pawan Singh & Priyanka Singh. Lyrics Written By Akhilesh Kashyap While Music Composition Arranged By Shishir Pandey & Shyam Sundar.

Rajsthani Ghaghra Lyrics
रऊआ बाली बंगाल से ले आवे के बा
हमरा बिंदिया पs इंडिया हिलावे के बा

रऊआ बाली बंगाल से ले आवे के बा
हमरा बिंदिया पs इंडिया हिलावे के बा
रेट होखे जवना के खुबे बढ़-चढ़ के
हथवा के चूड़ी संईया चाही चंडीगढ़ के
जदी लेके नाही अईब त करब झगडा

ऐ धनी हो! का हो?
की हमहू लेले आईब राजस्थानी घाघरा
हिलईहs पेन्ह के दिल्ली आगरा
की भईया लेले आव राजस्थानी घाघरा
हिलईहे भौजी दिल्ली आगरा

गाज़ियाबाद के गजरा चाही
कजरा कानपुर के
पैजनिया पटना के चाही
चलूंगी देहिया तुर के

ओढ़नी ओडिशा से आई
ओढ़ लग्बू बेबी डॉल
पूरा बॉडी गहना से ढक लिह
बन जाई महल

छपरा के छागल बड़ी बा निक लागल
देखि के बाज़ार में भईल बानी पागल
आज कहतानी रऊआ से लगाईं असरा

ऐ धनी हो! का हो?
की हमहू लेले आईब राजस्थानी घाघरा
हिलईहs पेन्ह के दिल्ली आगरा
की भईया लेले आव राजस्थानी घाघरा
हिलईहे भौजी दिल्ली आगरा

आखिर इक्षा लागल बा
दिलवा में इ खाली
अरे सुनले बानी
नामी ह आरा के ओठ्लाली

सासाराम से सेनुरा लेआईब
तू मंगिया सजईहs हो
खुश होइह तबे पवन के गरवा लगईहs हो

सब चीज जदी ना लईबs सपर के
सुनs अखिलेश छोड़ देबs बक्सर के
बोलs समझ में आईल ह की नाही तहरा

ऐ धनी हो! कही ना
की हमहू लेले आईब राजस्थानी घाघरा
हिलईहs पेन्ह के दिल्ली आगरा
की भईया लेले आव राजस्थानी घाघरा
हिलईहे भौजी दिल्ली आगरा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here